Avani Lekhara Biography In Hindi – टोक्यो पैरालंपिक्स में गोल्ड मेडल जीतने अवनी लेखरा का जीवन परिचय

44
avani lakhera biography

आज के इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं अवनी लेखरा के जीवन परिचय के बारे में, हम इस पोस्ट में आपको Avani Lekhara Biography, Jivani, Family, Education, Career, Net Worth, Car accident, Pralympics, state, injury,wikipedia की शुरूआत के बारे में इस पोस्ट में आपको बताएंगे।

Avani Lekhara Biography And Wiki

नाम अवनी लेखरा
जन्म 8 November 2001
जन्म स्थान Jaipur, Rajasthan
Height5ft 3 in (160cm)
उम्र 19 Years
पैशा Sport
SportShooting
शौक निशानेबाजी
Event(s)Air Rifle SH1
Paralympic finals2020 Summer Paralympics: 10m air rifle standing SH1 – Gold
पढ़ाई एलएलबी, लॉ की पढ़ाई कर रही है 
पिता प्रवीण लेखरा
माता श्‍वेता लेखरा
वैवाहिक स्थति अवैवाहिक
धर्म हिन्दू
नागरिकता भारतीय
अवार्ड 10m air rifle standing SH1 – Gold
 bronze medal in 50m air rifle standing 
कोच का नाम सुमा सिद्धार्थ शिरूर
चंदन सिंह
प्रेरणा स्त्रोत  अभिनव बिन्‍द्रा
वर्तमान आवास जयपुर राजस्थान

        Avani Lekhara Social media Accout

Social Media NameUser IDFollowers
Instagramavani.lekhara58.4k Followers
FaceBook Not Know Not Know
YouTubeNot Know Not Know
Twitter@AvaniLekhara27.2 K Followers

Avani Lekhara Biography

राजस्थान के जयपुर की रहने वाली अवनी लेखरा लेकर टोक्यो पैरालंपिक खेल में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय है  अवनी लेखरा लेकर ने महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल के क्लास SH1 के फाइनल में 209 पॉइंट स्कोर  कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। इसी के साथ अवनी लेखरा ने R8 – महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3P SH1 में दूसरा पदक जीता, 445.9 के स्कोर के साथ कांस्य जीता ।

अवनी लेखरा सिर्फ 19 साल की उम्र में ओलंपिक खेल में जीत हासिल कर गोल्ड मेडल जीत के अपने देश का नाम रोशन किया। 

यह राजस्थान के जयपुर की रहने वाली है एक सड़क हादसे ने इन्हें ओलंपिक खेल में जाने के लिए प्रेरणा मिली अवनी लखेरा पढ़ाई में काफी ज्यादा होशियार है और साथ ही साथ यह अपने करियर पर भी काफी ज्यादा ध्यान देती है। 
 आज हम इस पोस्ट में अवनी लेखरा लेकर के बारे में संपूर्ण जीवन परिचय आपके साथ शेयर करेंगे।

Avani Lekhara Birth, Place, Family, Education

अवनी लेखरा का जन्म 8 नवंबर 2001 को राजस्थान के जयपुर शहर में हुआ।  अवनी लेखरा के पिता का नाम प्रवीण लेखरा है और माता का नाम श्वेता लेखरा है अवनी लेखरा के पिता प्रवीण लखेरा रेवेन्‍यू विभाग में आरएएस के पद पर गंगानगर में कार्यरत है। अवनी लेखरा वर्तमान समय में राजस्थान के जयपुर शहर में ही रहती है और यह अपने परिवार के साथ रहती हैं। 
अवनी लेखरा जहां एक और अपनी लगन और मेहनत के दम पर गोल्ड मेडल जीता तो वहीं दूसरी और अवनी पढ़ाई में काफी  ज्यादा होशियार है और हर बार अच्छे नंबरों से अपने परिवार का नाम रोशन करती आ रही है अवनी लेखरा वर्तमान समय में लॉ की पढ़ाई कर रही है इनका बचपन से ही सपना था कि यह वकील बने।

Avani Lekhara Career Journey

अवनी लेखरा के करियर की शुरुआत जब ये 11 वर्ष की थी तब एक सड़क हादसे से हुई। लेकिन उसके बाद एक सड़क हादसे ने उनकी जिंदगी को पूरी तरीके से बदल दिया और उस सड़क हादसे में अवनी लेखरा विकलांग हो गई। 

2012 में प्रवीण लेखरा और अवनी जयपुर से धौलपुर जा रहे थे क्योंकि प्रवीण लेखरा धौलपुर में कार्यरत थे और वही काम करते थे जिस कारण यह अपनी गाड़ी में धौलपुर जा रहे थे बीच रास्ते में उनकी गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई और यह दोनों घायल हो गए।  अवनी लेखरा के पिता प्रवीण लेखरा तो ठीक हो गए परंतु अवनी के रीड की हड्डी खराब हो गई जिस कारण अवनी लेखरा  विकलांग हो गई। 

इस सड़क हादसे के बाद अवनी लेखरा पूरी तरीके से टूट चुकी थी  अवनी ने अपने आप को एक कमरे में बंद कर दिया और उसी कमरे में रहने लगी।  अवनी पूरी तरीके से  उसी कमरे को अपना सारा संसार मानने लगी, लेकिन उसके पिताजी ने हार नहीं मानी और उन्होंने अवनी को हमेशा मोटिवेट किया।  अवनी के पिताजी उन्हें कई मोटिवेशन और इंस्पायर करने वाली किताबें लेकर देते थे जिसे अवनी लेखरा पढ़ती थी और अपने अंदर उन सफल लोगों की जीवनी को उतारती थी इन किताबों को पढ़ने के बाद अवनी लेखरा को लगा कि मैं भी अपने जीवन में कुछ बड़ा कर सकती हूं।  

इसी बीच अवनी लेखरा ने अभिनव बिंद्रा की बायोग्राफी पड़ी और उनके जीवन को पढ़ने के बाद अवनी लेखरा को लगा कि वह भी अपने जीवन में कई बड़े मुकाम हासिल कर सकती हैं।  

और तब उनके पिताजी ने उन्हें पैरालंपिक खेलों के बारे में बताया और उसकी तैयारी करने के लिए बोला।  अवनी लेखरा ने भी अपने पास में स्थित एक मैदान में जाकर शूटिंग रेंज की तैयारी करना शुरू कर दी,  अवनी लेखरा के कोच  के  निर्देशानुसार उन्होंने कड़ी मेहनत करके इस खेल में सफलता हासिल की और दिन-ब-दिन इनकी अभ्यास से अवनी लेखरा ने इस खेल में महारत हासिल करने और इसके बाद उन्हें सफलता के ऊपर सफलता मिलती गई।  

इसके बाद अवनी ने कई पदक जीते जो इस प्रकार है :-

  1. अवनी लेखरा ने साल 2015 में राष्ट्रीय पैरालंपिक शूटिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता.
  2. अवनी लेखरा ने साल 2019 में दुबई में आयोजित पैरा शूटिंग विश्व कप के 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में रजत पदक अपने नाम किया. साथ ही पैरालंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया
  3. अवनी लेखरा ने साल 2021 में टोक्यो में आयोजित पैरालंपिक में स्वर्ण पदक अपने नाम किया
  4. इनके अलावा अवनी लेखरा पांच बार राष्ट्रीय प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीत चुकी है

Avani Lekhara Award 

अवनी लेखरा को वैसे तो कई अवार्ड और पदक मिले हुए हैं परंतु आज हम उन अवार्ड के बारे में बात करेंगे जिसमें उन्होंने अपने देश का नाम रोशन किया है अवनी लेखरा ने अपने देश में तथा विदेशों में जाकर कहीं खेल खेल कर बड़ी से बड़ी सफलताओं को अपने नाम किया और अपने देश का नाम गर्व से ऊंचा किया । 

आइए हम आपको बताते हैं और नहीं लगे रानी कौन-कौन से अवार्ड जीते हैं 

10m air rifle standing SH1 – Gold

 bronze medal in 50m air rifle standing 

आपको हमारे द्वारा लिखी गयी Avani Lekhara Biography in Hindi  पोस्ट अच्छी लगी हो तो, आप हमारे Hindi Biography 2021 वेबसाइट की सदस्यता लेने के लिए Right Side में दिखाई देने वाले Bell Icon को दबाकर Subscribe जरूर करे। 

Previous articleसुंदर पिचाई का जीवन-परिचय ।। Google CEO Sundar Pichai Net Worth Wikipedia Biography in hindi
Next articleसिंगर आकृति मिश्रा जीवनी | Singer Akriti Mishra Biography Age, Bhajan, Wikipedia, Family In Hindi

1 COMMENT

  1. I absolutely love your blog and find nearly all of your post’s to be just what I’m looking for.

    Would you offer guest writers to write content in your case?

    I wouldn’t mind writing a post or elaborating on most of the subjects you write
    about here.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here